Menu Close

२८ फरवरी को बिहार के इनोवेटरों/ अन्वेषकों को राज्यपाल करेंगे पुरस्कृत

राष्ट्रीय विज्ञान दिवस वैसे तो हरेक वर्ष २८ फरवरी को मनाया जाता है किन्तु इस वर्ष राज भवन में इसे नए अन्दाज में मनाने की योजना बनी है। अगामी २७-२८ फरवरी को पटना के राज भवन में पूरे प्रांत से अपने अपने नए विचार, नयी विधि, नये प्रयोग, नए जुगाड़ उपकरण के साथ हरेक तबके के लोग पुरस्कार और सम्मान प्राप्त करने के लिए जुटेंगे। नयी कोई भी चीज प्रतियोगिता में आएगी जो कोई भी काम आसान कर दे या जीना आसान कर दे। मॉडल के साथ एक से छ: लोग आ सकेंगे । चार श्रेणियों में प्रतियोगिता हो रही है। ग्रास रूट लेवल की प्रतियोगिता में कोई भी पढ़ें या अनपढ़ भाग ले सकते हैं । इंजीनियरिंग कॉलेजों की अलग श्रेणी है और इन्टर या प्लस टू विद्यालयों की अलग श्रेणी । स्नातक और पी०जी० विद्यार्थियों के लिए भी अलग प्रतियोगिता हो रही हैं। राज्य भर के विश्वविद्यालयों से २० फरवरी तक इंजीनियरिंग छोड़ बाकी तीन श्रेणी की प्रतियोगिताओं के लिए दो दो नाम माँगे गए हैं।१६ इंजीनियरिंग कालेजों, आई० आई० टी० , एन०आई०टी० सीधे दो-दो प्रविष्टि भेजेंगे । कॉलेजों को १५ फरवरी तक चयन करने को कहा गया है। चारों श्रेणी में प्रथम और द्वितीय को राज्यपाल के हाथों नगद पुरस्कार की योजना है। यह प्रतियोगिता मुंगेर वि वि आयोजित कर रहा है और इस बाबत सभी वि वि को पत्र लिखे गये हैं और वि वि स्तर पर कोआर्डिनेटर बनाए जा रहे हैं। पूरे कार्यक्रम के संयोजक मुंगेर के प्रो अमर कुमार और सह संयोजक प्रो गोपाल चौधरी ने बताया कि सारी जानकारी मुंगेर वि वि के वेबसाइट mungeruniversity.ac.in पर आने के बाद बड़ी संख्या में queries आ रहे हैं और विश्वविद्यालयों से तीनों श्रेणी में प्रतियोगिता जल्द करने को कहा जा रहा है

Like Munger University Official Facebook Channel to stay updated with Latest News & NotificationClick Here to Subscribe / Like
+ +